Best Geography books for UGC Net in Hindi

Best Geography books for UGC Net in Hindi – किसी भी Exam के लिए जरूरी है कि हमारे पास सही किताबों का संकलन हो। किताबें ही ज्ञान का मुख्य स्रोत होती हैं। आज की ऑनलाइन क्लासेज किताबों की स्थान नहीं ले सकती हैं। कुछ किताबों के नाम बता रहा हूं। इसमें से अधिकतर किताबें मैंने व्यक्तिगत तौर पर पढ़ी हैं। यूजीसी नेट की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के पास यह किताबें होनी अनिवार्य है।

1. भारत का भूगोल – माजिद हुसैन – Bharat Ka Bhugol: Majid Husain

भारत का भूगोल, भूगोल विषय का एक महत्वपूर्ण भाग है। इसमें भारत की भौगोलिक संरचना, अपवाह तंत्र, जलवायु, प्राकृतिक वनस्पति, मृदा के प्रकार, संसाधन, कृषि, उद्योग धंधे, परिवहन, संचार एवं व्यापार तथा सांस्कृतिक विन्यास का अध्ययन किया जाता है। इसके लिए माजिद हुसैन द्वारा लिखित भारत का भूगोल एक महत्वपूर्ण पुस्तक है। जिसमें सभी यूनिट्स का विस्तृत वर्णन किया गया है।

भारत का भूगोल माजिद हुसैन

खरीदने के लिए क्लिक करें भारत का भूगोल

2. भौतिक भूगोल – सविंद्र सिंह : Bhoutik Bhugol – Savindra Singh

भौतिक भूगोल भूगोल की एक महत्वपूर्ण शाखा है जिसमें भूगोल के सभी महत्वपूर्ण यूनिट्स जैसे भू आकृति विज्ञान, जलवायु विज्ञान, समुद्र विज्ञान तथा जीवमंडल का अध्ययन किया जाता है। सविंद्र सिंह सर की भौतिक भूगोल में इन सभी भागों का विस्तृत वर्णन दिया गया है। भौतिक भूगोल से यूजीसी नेट एग्जाम में लगभग 30 क्वेश्चन आते हैं। अतः यूजीसी नेट में अच्छे मार्क्स लाने के लिए भौतिक भूगोल के सारे यूनिट्स का ज्ञान होना जरूरी है।

भौतिक भूगोल सविंद्र सिंह

खरीदने के लिए क्लिक करें भौतिक भूगोल – सविंद्र सिंह

3. ऑक्सफोर्ड स्टूडेंट एटलस : भारतीय संस्करण – Oxford Student Atlas

किसी भी परीक्षा की तैयारी में भूगोल विषय की भूमिका प्रमुख है। भूगोल में मैप का बहुत महत्व होता है। मैप के द्वारा ही विश्व के सभी महाद्वीपों, महादेशों, महासागरों की सही स्थिति का ज्ञान होता हैं। मैप के द्वारा विश्व के सभी देशों उनकी राजधानियों शहरों आदि का ज्ञान होता है। इसके साथ ही विभिन्न क्षेत्रों जैसे औद्योगिक क्षेत्र, जलवायु कटिबंध, खनिजों की प्राप्ति स्थान, प्राकृतिक वनस्पति, पर्वत, पठार आदि की सही स्थिति का ज्ञान होता है। इसके लिए हमें एक अच्छे एटलस की आवश्यकता पड़ती है। ऑक्सफोर्ड स्टूडेंट अटलस हिंदी और अंग्रेजी दोनों माध्यम में आती है जो भारत में सबसे अधिक प्रयोग होती है।

ऑक्सफोर्ड स्टूडेंट एटलस

खरीदने के लिए क्लिक करें ऑक्सफोर्ड स्टूडेंट एटलस

4. यूजीसी नेट भूगोल अध्यायवार परीक्षा ज्ञान कोष – NTA UGC -NET/JRF Geography Chapterwise Solved Papers

किसी भी परीक्षा में सम्मिलत होने पहले उसके प्रारूप का ज्ञान होना बहुत आवश्यक है। इसके लिए जरूरी है कि हम उस परीक्षा के पिछले वर्षो के प्रश्नों का आकलन करें। राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा के लिए विद्यार्थियों को सलाह दी जाती है कि कम से कम 10 वर्ष के प्रश्न पत्रों का अध्ययन अच्छे से करें। जिससे प्रश्नों के प्रकार और प्रश्न पूछने के तरीके का पता लग पाता है। इससे ये भी ज्ञात होता है कि किस यूनिट से कैसे और कितने प्रश्न पूछे जाते हैं। यूथ कॉम्पिटिशन टाइम्स की यूजीसी नेट के लिए हल प्रश्न पत्र की पुस्तक आती है जिसमें हर प्रश्न का उत्तर तथा उसकी व्याख्या दी हुई होती है।

यूथ कंपटीशन यूजीसी नेट ज्योग्राफी

खरीदने के लिए क्लिक करें यूजीसी नेट solved paper 

5. यूजीसी नेट जेआरएफ भूगोल – अरिहंत पब्लिकेशन : NTA UGC NET/JRF/SET Bhoogol Paper 2 – Arihant

भूगोल की इस पुस्तक की रचना विश्वविद्यालय अनुदान आयोजित नेट-जे आर एफ (NET-JRF) एवं विभिन्न राज्यों के लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित स्लेट (SLET) नवीनतम् पाठ्यक्रम एवं संशोधित पैटर्न के अनुसार की गई है। इसमें प्रश्न-पत्र II के लिए पाठ्य सामग्री दी गई है तथा सम्पूर्ण पाठ्य सामग्री को 10 अध्यायों में विभाजित किया गया है।

यूजीसी नेट अरिहंत ज्योग्राफी

इस पुस्तक की रचना में नवीनतम आँकड़ों, घटनाओं तथा सम्प्रत्ययों का समावेश किया गया है। विद्वान् शिक्षकों एवं जिज्ञासु छात्रों को प्रामाणिक मानक, विश्वसनीय एवं ठोस विषय-सामग्री उपलब्ध कराने के लिए लेखक द्वारा कठिन प्रयास किया गया है। प्रस्तुत पुस्तक में निम्नलिखित उल्लेखनीय विशेषताएँ दृष्टव्य हैं सम्पूर्ण पाठ्यक्रम का अध्यायवार विवरण वर्तमान परीक्षा पद्धति पर आधारित वस्तुनिष्ठ प्रश्न कथन-कारण, सुमेल, युग्म आदि प्रश्नों का समावेश मानचित्र वाले प्रश्नों का समावेश चित्रों, संकल्पनाओं, तथ्यों एवं नवीन आँकड़ों पर आधारित 4000 से भी अधिक प्रश्नों का समावेश है।

खरीदने के लिए क्लिक करें यूजीसी नेट भूगोल – अरिहंत पब्लिकेशन

6. प्रायोगिक भूगोल – PRACTICAL GEOGRAPHY – R.N. Mishra and P.K. Sharma

भूगोल विषय के अध्ययन में प्रायोगिक भूगोल का महत्वपूर्ण स्थान है। इसके लिए जरूरी है कि किसी ऐसी  पुस्तक का अध्ययन करे जिसमे विषयवस्तु का क्रमबद्ध विश्लेषण दिया गया हो। इस पुस्तक के संस्करण की कुछ प्रमुख विशेषताएँ  निम्नांकित हैं :
• विषय-सामग्री के प्रस्तुतीकरण में आवश्यक परिवर्तन करके उसे सहज एवं सुपठनीय बनाया गया है।
• कुछ अध्यायों में नवीन रेखाचित्र जोड़े गये हैं तथा पुराने मानचित्रों एवं रेखाचित्रों में आवश्यक सुधार किया गया है ।
• मानचित्र कला की प्रकृति, अध्ययन-क्षेत्र एवं इतिहास के अध्याय में नवीन विषय-सामग्री जोड़ी गयी है तथा कुछ मानचित्रों को पुनः बनाया गया है।
• परस्पर दृश्यता एवं ढाल विश्लेषण के अध्याय में उदाहरणों एवं नवीन रेखाचित्रों की सहायता से हिप्सोमितीय वक्र बनाने की विधि तथा परिच्छेदिकाओं के भेद स्पष्ट किये गये हैं।
• सांख्यिकीय आँकड़ों के निरूपण के अध्याय में कुछ नवीन आरेख व आलेखों को जोड़ा गया है।
• वितरण मानचित्र के अध्याय में नवीन मानचित्र की सहायता से विषय-वस्तु को स्पष्ट किया गया है।
• वायु फोटोचित्र से सम्बंधित अध्याय में दूरसंवेद और जोड़ दिया गया है।
• खनिज तथा शैल के अध्याय में नवीन चित्रों का समावेश हुआ है।

प्रायोगिक भूगोल R N Mishra and P k Sharma

साथ ही उन सारे यूनिट्स का नाम उल्लेखित है। जो इस पुस्तक में दिए हुए है।
1.मानचित्र-कला, 2. मानचित्र प्रकार, 3. मापनी, 4. मानचित्रों का विवर्धन, लघुकरण और संयुक्तीकरण, 5. उच्चावच निरूपण, 6. परिच्छेदिकाएं एवं ढाल विश्लेषण, 7. मानचित्र प्रक्षेप, 8. भौमिकीय मानचित्र, 9. स्थलाकृतिक मानचित्र ,10. वितरण मानचित्र , 11. मौसम मानचित्र, 12. सांख्यिकीय आँकड़ों का निरूपन, 13. सांख्यिकीय विधियां, 14. जरीब एवं फीता सर्वेक्षण, 15. समपटल पट्ट सर्वेक्षण, 16. प्रिज्मेटिक कम्पास सर्वेक्षण, 17. थियोडोलाइट सर्वेक्षण, 18. समतलन उपकरण, 19. सुदूर संवेदन तकनीक, 20. भौगोलिक सूचना तंत्र, 21. क्षेत्र अध्ययन तथा प्रतिवेदन लेखन.

खरीदने के लिए क्लिक करें प्रायोगिक भूगोल

7. एनटीए यूजीसी नेट प्रथम प्रश्नपत्र – के वी एस मदान NTA UGC Net K V S Madaan

शिक्षण एवं शोध अभियोग्यता, नेट /सेट/जे आर एफ परीक्षा, सामान्य पेपर-1 पुस्तक ऐसे विद्यार्थियों के लिए है जो उच्च शिक्षा के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं। यह पुस्तक मुख्य रूप से शिक्षण तथा अनुसन्धान योग्यता, तर्क क्षमता, भिन्न सोच और सामान्य बोध को विकसित करने के लिए लिखी गई है।
इस पुस्तक को 11 अध्यायों में बाटा गया है।

इसकी प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित है:-

  1. विषय वस्तु का सरल और स्पष्ट भाषा का प्रयोग
  2. कठिन शब्दों का अंग्रेजी में अनुवाद
  3. अभ्यास के लिए 2500 से अधिक प्रश्न
  4. जून 2012 से अब तक के हल किये हुए प्रश्न पत्र
  5. विषय का उदाहरण, आरेख और तालिकाओं द्वारा प्रस्तुतीकरण
    महत्वपूर्ण विषय वस्तु के लिए ऑनलाइन सहायता.

प्रथम प्रश्न पत्र का सिलेबस।

1 . शिक्षण अभिक्षमता, 2 . अनुसंधान अभिक्षमता, 3 . अध्यन बोध, 4 . संचार, 5 . तर्क (गणितीय तर्क सहित), 6 . युक्तिसंगत तर्क, 7 . सूचनाओं का विवेचन, 8 . सूचना और संचार प्रौद्योगिकी, 9 . जन एवं पर्यावरण, 10A . उच्च शिक्षा प्रणाली, 10B . प्रशासन, राजनीति और शासन प्रबंध

एनटीए यूजीसी नेट के वी एस मदान

खरीदने के लिए क्लिक करें एनटीए यूजीसी नेट प्रथम प्रश्नपत्र – के वी एस मदान

UGC NET Exam के लिए अन्य महत्वपूर्ण पुस्तकें

  • अधिवास भूगोल – डॉ. एस. डी. मौर्य
  • भौगोलिक चिंतन का इतिहास – डॉ. एस. डी. मौर्य
  • जलवायु विज्ञान – डी. एस. लाल
  • सुदूर संवेदन एवं भौगोलिक सूचना प्रणाली के सिद्धांत डॉक्टर देवी दत्त चौनियाल
  • भारत का भूगोल – आर. सी. तिवारी
  • राजनीतिक भूगोल – आर. सी. तिवारी
  • प्रायोगिक भूगोल – जे. पी. शर्मा
  • जलवायु विज्ञान – सविंद्र सिंह
  • प्रादेशिक विकास नियोजन – महेंद्र बहादुर सिंह एवं कमला कांत दुबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here